शहरी गरीबों के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार जल्द दूर करेगी मकान की समस्या

लखनऊ: प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत उत्तर प्रदेश में शहरी इलाकों के गरीबों को जल्द ही 70 हजार 784 और मकान उपलब्ध कराये जायेंगे।
आधिकारिक प्रवक्ता ने आज बताया कि पीएमएवाई (शहरी) के तहत उत्तर प्रदेश में शहरी निर्धनों के लिए 70,784 और मकान उपलब्ध होंगे। आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय ने योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में शहरी निर्धनों के लिए 3,528 करोड़ रुपये के निवेश से 70,784 अतिरिक्त सस्ते मकानों के निर्माण की मंजूरी प्रदान की है।
इस परियोजना के लिए केंद्रीय सहायता के रूप में 1,062 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और शहरी आवास और गरीबी उपशमन मंत्री एम. वेंकैया नायडू के बीच बैठक के बाद राज्य सरकार ने 145 शहरों में सस्ते मकान बनाने का प्रस्ताव भेजा था, जिसका अनुमोदन कर दिया गया है। इससे पहले उत्तर प्रदेश के लिए राजीव आवास योजना के तहत 41,254 मकानों के निर्माण की मंजूरी दी गई थी।
दो शादियां करना ज्यादातर देशों में भले ही सही न माना जाता हो, लेकिन दुनिया में कई देश ऐसे भी हैं, जहां ऐसी शादियों को प्रोत्साहित किया जाता है. संयुक्त अरब अमीरात (UAE) भी एक ऐसा ही देश है. वहां की सरकार ने दो बीवी रखने वाले लोगों को अतिरिक्त मकान भत्ता देने की घोषणा की है.
खलीज टाइम्स के अनुसार देश में अविवाहित लड़कियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार लोगों को दूसरी शादी करने को प्रोत्साहित करने के लिए यह स्कीम लेकर आई है. UAE के बुनियादी ढांचा विकास मंत्री डॉ. अब्दुल्ला बेलहैफ अल नुईमी ने बुधवार को फेडरल नेशनल कौंसिंल (FNC) के सत्र के दौरान यह घोषणा की.
उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है कि दो बीवी रखने वाले सभी लोगों को शेख जायद हाउसिंग कार्यक्रम के तहत मकान भत्ता दिया जाएगा. असल में यह दूसरी बीवी के लिए मकान भत्ता होगा. यानी यह एक पत्नी वाले परिवार को पहले से मिल रहे मकान भत्ते के अतिरिक्त होगा.
मंत्री ने कहा, ‘दूसरी बीवी के लिए भी उसी तरह के रहन-सहन की व्यवस्था होनी चाहिए, जैसा कि पहली बीवी के लिए होता है.’ उन्होंने कहा कि मकान भत्ता देने से लोग दूसरी शादी करने को प्रोत्साहित होंगे और UAE में अविवाहित महिलाओं की संख्या घटेगी. मंत्रालय यह चाहता है कि दूसरी बीवी को भी पहले बीवी की तरह ही मकान मिले.
गौरतलब है कि UAE में अविवाहित यु‍वतियों की बढ़ती संख्या को लेकर एफएनसी के सदस्य चिंता जताते रहे हैं. कुछ सदस्यों ने तो यहां तक कहा था कि लोगों के दूसरी शादी न करने से देश पर आर्थिक बोझ बढ़ रहा है. इसके अलावा इसके सामाजिक निहितार्थ की भी चर्चा होती रही है.

happy new year sms 2018

About Atul 192 Articles
I am a Technical Engineer Interested to Blog.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*